तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में लगातार 10 महीने से जारी किसानों के धरना प्रदर्शन के बीच दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बार्डर पर एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है। यहां पर एक युवक की पहले तो बेरहमी से हत्या की गई फिर उसके हाथ काटकर बैरिकेड से लटका दिया गया। इस बाबत शुक्रवार सुबह से ही इस घटना के बाबत कई तस्वीरें वायरल हैं, जिसमें इसमें साफ देखा जा सकता है कि सिंघु बार्डर पर एक युवक के दोनों हाथों को बांधकर लटकाया गया है और इस युवक की मौत की जानकारी सामने आ रही है। वहीं, हत्या का आरोप निहंगों पर है, लेकिन स्थानीय पुलिस के अधिकारी इस पर कुछ भी बोलने के लिए तैयार नहीं है। मिली जानकारी के मुताबिक, बृहस्पतिवार रात को दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बार्डर पर कुछ लोगों ने एक अनजान व्यक्ति का दाहिना हाथ काट कर मार दिया। इसके बाद शव को किसानों के धरना स्थल के पास ले जाकर बैरिकेड पर लटका दिया। वहीं, जान गंवाने इस व्यक्ति की अभी शिनाख्त नहीं हुई है।कहा जा रहा है कि युवक की हत्या बृहस्पतिवार रात को ही की गई, उसके बाद शुक्रवार सुबह 5:30 बजे संयुक्त किसान मोर्चा की मुख्य स्टेज के पास करीब 100 मीटर घसीट कर निहंगों के ठिकाने यानी फोर्ड एजेंसी के पास शव को लाया गया। इसके बाद सुबह 6:00 बजे शव को लटकाया गया है, ताकि लोग देख सकें। वहीं, प्रबंधक थाना रवि कुमार मौके पर पहुंच गए हैं। बताया जा रहा है कि इस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी गई है।
जान गंवाने वाले युवक की उम्र 35 वर्ष के आसपास बताई जा रही है। वहीं, प्रथम दृष्टया युवक के शरीर पर धारदार हथियार से हमले के निशान भी हैं। एक हाथ कलाई के पास से काटा गया है।

आंदोलनकारियों की भीड़ घटना स्थल पर

धरना स्थल पर गहमागहमी का माहौल है। शुरुआत में तो पुलिस को भी नहीं आने दिया जा रहा था। फिलहाल यहां पर जमकर हंगामा हो रहा है। यहां पर आंदोलनकारी किसी को भी आने नहीं दे रहे हैं। फिलहाल कुंडली थाना पुलिस को भी घटना स्थल से दूर रोका गया है।