जम्मू-कश्मीर में सोमवार से मौसम एक बार फिर करवट बदलेगा। मौसम विज्ञान केंद्र श्रीनगर के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के चलते अगले 24 घंटों में कई उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में बर्फबारी व मैदानी इलाकों में हल्की से सामान्य बारिश के आसार हैं। हालांकि पश्चिमी विक्षोभ के कमजोर होने की वजह से भारी बारिश या बर्फबारी जैसी कोई चेतावनी नहीं हैं। ज्यादातर मौसम बिगड़ने का असर कश्मीर संभाग में ही दिखेगा।
दो नवंबर को दोपहर बाद मौसम साफ हो जाएगा और चार नवंबर दिवाली पर प्रदेश में मौसम साफ बना रहेगा। मौसम बिगड़ने का असर जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर भी पड़ सकता है। सामरिक रूप से इस अहम हाईवे पर बर्फबारी या बारिश होने पर भूस्खलन की आशंका बनी रहती है। दरअसल हाईवे के चौड़ीकरण का कार्य रामबन और बनिहाल में कई जगहों पर चल रहा है। जब तक यह कार्य पूरा नहीं होता, परेशानी बनी रह सकती है। रविवार को प्रदेश के सभी जिलों में मौसम साफ रहा। धूप खिलने से तापमान में बढ़ोतरी हुई। जम्मू में दिन का अधिकतम तापमान 28.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। न्यूनतम तापमान 13.1 डिग्री दर्ज हुआ। श्रीनगर में दिन का अधिकतम तापमान 18.8 डिग्री दर्ज हुआ। पहलगाम में दिन का अधिकतम तापमान 16.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। कटड़ा में दिन का अधिकतम तापमान 25.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ हैं।