देश में कोरोना संक्रमण एक बार फिर तेजी से फैलने लगा है. करीब ढाई महीने बाद 22 हजार से ज्यादा कोरोना मामले दर्ज किए गए हैं. साथ ही लगातार आठवें दिन 15 हजार से ज्यादा केस आए. स्वास्थ्य मंत्रालय की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 22,854 हजार नए कोरोना केस आए और 126 लोगों की जान चली गई है. हालांकि 18,100 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं. इससे पहले 25 दिसंबर को 22,273 केस दर्ज किए गए थे.

 

ताजा आंकड़ों के अनुसार, अब देश में कोरोना के कुल मामले बढ़कर एक करोड़ 12 लाख 85 हजार 561 हो गए हैं. कुल एक लाख 58 हजार 189 लोगों की जान जा चुकी है. एक करोड़ 9 लाख 38 हजार 146 लोग कोरोना को मात देकर ठीक भी हो चुके हैं. देश में अब एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 1 लाख 89 हजार 226 हो गई है यानी कि इतने लोग अभी कोरोना संक्रमित हैं.

 

महाराष्ट्र में पांच महीनों के बाद सबसे ज्यादा कोरोना केस
महाराष्ट्र में बीते दिन पांच महीनों के बाद सबसे ज्यादा कोरोना केस दर्ज किए गए हैं. बुधवार को कोरोना वायरस के 13,659 नए मरीजों की पुष्टि हुई और 54 संक्रमितों की मौत हो गई. राज्य में संक्रमण के कुल मामले 22,52,057 पहुंच गए हैं जबकि मृतक संख्या 52,610 हो गई है.

 

ढाई करोड़ से ज्यादा कोरोना टीका लगे
देश में 16 जनवरी को कोरोना का टीका लगाए जाने की अभियान की शुरुआत हुई थी. 10 मार्च तक देशभर में 2 करोड़ 56 लाख 85 हजार स्वास्थ्यकर्मियों, बुजुर्गों और कोरोना योद्धाओं को कोविड-19 का टीका लगाया जा चुका है. बीते दिन 13 लाख 17 हजार 357 लोगों को टीका लगा. वैक्सीन की दूसरी खुराक देने का अभियान 13 फरवरी से शुरू हुआ था.

 

देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.40 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट करीब 97 फीसदी है. एक्टिव केस 1.64 फीसदी है. कोरोना एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का 12वां स्थान है.

 

कुछ राज्यों में कोरोना से एक भी मौत नहीं
कोरोना से पिछले 24 घंटों में देश में 126 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है. सबसे ज्यादा मौत महाराष्ट्र में हुई है. लेकिन देश के कुछ राज्य ऐसे भी हैं, जहां कोरोना से एक भी संक्रमित शख्स की मौत नहीं हुई है. ये जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों से मिली है. ये कुछ राज्य हैं- अंडमान व निकोबार, अरुणाचल प्रदेश, असम, दादरा नगर हवेली, कर्नाटक, लद्दाख, लक्षद्वीप, मिजोरम, नागालैंड, सिक्किम, त्रिपुरा आदि.

 

कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का दूसरा सबसे प्रभावित देश है. रिकवरी दुनिया में अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा भारत में हुई है. मौत के मामले में अमेरिका, ब्राजील और मैक्सिको के बाद भारत का नंबर है.