भारत कोरोना संक्रमण में कैसे हुआ सबसे बदतर, क्या एयरबॉर्न हो चुका वायरस?

कोरोना वायरस के रोजाना बढ़ते औसतन साढ़े तीन लाख से ज्यादा मामलों ने दहशत का माहौल खड़ा कर दिया है. अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी से लगातार लोगों की मौत हो रही हैं. लोग बेबसी के साथ इस भयानक तमाशे को देखने पर मजबूर हैं. इस बीच हेल्थ एक्सपर्ट्स भी लोगों से सुरक्षित रहने और संयम बरतने की अपील कर रहे हैं….

एम्स में कोविड विभाग के चीफ डॉ. राजेश मल्होत्रा ने ऑक्सीजन की कमी से परेशान हो रहे लोगों को एक बेहद खास जानकारी दी. उन्होंने कहा, ‘ऑक्सीजन लेवल 90 के नीचे जाते ही लोग एकदम से घबरा रहे हैं. अक्सर तेज खांसी आने, जी मिचलाने, हिलने-डुलने या चलने से भी ऑक्सीजन लेवल नीचे चला जाता है. दूसरा, पल्स ऑक्सीमीटर.को ढंग से न लगाने पर भी ऑक्सीजन लेवल कम दिखाई देता है. इसलिए ऑक्सीजन लेवल को जांचते वक्त इन सभी बातों का बारीकी से ध्यान रखें.’

डॉ. मल्होत्रा ने कहा कि शरीर में ऑक्सीजन की कमी होने पर उल्टा लेटने से भी राहत मिलती है. अगर आपकी बॉडी को ऑक्सीजन की कमी महसूस नहीं हो रही है और फिर भ… ऑक्सीमीटर पर ऑक्सीजन लेवल 90 के नीचे दिख रहा है तो हो सकता है आपने वो ठीक से न लगाया हो. अगर वाकई सांस लेने में तकलीफ हो रही है तो डॉक्टर से तुरंत संप…