ईपीएफओ ने दी कर्मचार‍ियों को बड़ी राहत, अब सेवानिवृत्ति के दिन ही म‍िल जाएगी पेंशन- बस करना होगा यह काम

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने सेवान‍िवृत्‍त होने वाले लाखों कर्मचार‍ियों को बड़ी राहत दी है। ईपीएफओ के ‘प्रयास’ अभियान के तहत अब कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति के दिन ही पेंशन जारी हो जाएगी। ईपीएफओ विभाग की इस पहल से कर्मचारियों व उनके स्वजन को पेंशन व अन्य देयकों के लाभ के लिए कार्यालयों के चक्कर लगाने से छुटकारा मिल जाएगा। इससे सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचार‍ियों को ईपीएफओ कार्यालय का चक्‍कर लगाने से मुक्‍त‍ि म‍िल जाएगी।

ईपीएफओ ने कर्मचारियों के लिए शुरू की ‘प्रयास’ योजना

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने अपने ग्राहकों को निर्बाध सेवा सुनिश्चित करने के लिए कोरोना महामारी में कई नीतिगत और डिजिटल पहल की है। ईपीएफओ की इस पहल की कर्मचारियों के बीच सराहना हो रही है। अभी तक सेवानिवृत्ति के बाद कर्मचारियों को पेंशन के लिए इंतजार करना पड़ता था। यहां तक कि पहले पेंशन के कागजात प्राप्त होने में एक-एक वर्ष तक का समय लग जाता था, जिससे अब निजात मिल गई है। ईपीएफओ की इस योजना को ‘प्रयास’ नाम दिया गया है।

स्कूल की कर्मचारी को पेंशन पत्र सौंप किया शुभारंभ

योजना के तहत क्षेत्रीय भविष्य निधि आयुक्त अभयानंद तिवारी ने शहर के सेंट एंथोनी कांवेंट स्कूल डेयरी कालोनी जाकर अपने हाथों से कर्मचारी त्रिपत भाटिया को उनके 58 वर्ष की सेवा के बाद सेवानिवृत्त होने पर पेंशन भुगतान आदेश सौंपकर योजना का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने कर्मी को अन्य प्राप्त होने लाभों से संबंधित अभिलेख एवं पीपीओ की प्रति भी सौंपी।

इन समस्‍याओं से अब म‍िलेगी न‍िजात

कर्मचार‍ियों को पहले सेवानिवृत्त होने के बाद पेंशन लेने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ता था। पहले कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति के बाद अपने पेंशन के कागजात लेकर क्षेत्रीय ईपीएफ कार्यालय में जाना पड़ता था। इसके साथ ही सभी दस्तावेज लेने के लिए कंपनी के चक्कर लगाने पड़ते थे। इस योजना के शुरू होने के बाद अब सेवानिवृत्ति से कुछ दिन पूर्व सदस्य अपने पेंशन पेपर कंपनी के माध्यम से जमा कर रिटायरमेंट के दिन ही पेंशन आर्डर प्राप्त कर सकेगा।

ऑनलाइन जीवन प्रमाणपत्र जमा करने का भी न‍ियम बदला

एक बार पेंशन आर्डर जारी होने के बाद विभाग द्वारा नियमित रूप से पेंशन सदस्य के बैंक खाते के माध्यम से जाती रहेगी। यही नहीं, पहले वर्ष में एक बार नवंबर माह में दिया जाने वाला ऑनलाइन जीवन प्रमाणपत्र भी अब वर्ष में कभी भी दिया जा सकता है। इसे कर्मचारी अपनी सुविधा के अनुसार भर सकते हैं।
कर्मचारी भविष्य निधि संगठन, श्रम एवं रोजगार मंत्रालय की विशेष पहल ‘प्रयास’ के तहत कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति के दिन ही पेंशन संबंधित सुविधाओं को सुपुर्द करने की पहल की जा रही है। जिससे सेवानिवृत्ति के बाद सदस्यों पेंशन के लिए भागदौड़ निजात मिल सके और बेहतर सुविधा सुनिश्चित की जा सके। इस प्रक्रिया में ई-नामिनेशन की महत्वपूर्ण भूमिका है। – अभयानंद तिवारी, क्षेत्रीय आयुक्त, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन।